Contact Information / सम्पर्क जानकारी

C-125,1st Floor,Sector-02 Noida,Uttar,Uttar Pradesh - 201301

Call Us / सम्पर्क करें

नई दिल्ली: कोरोना वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) के आने का भारत में बेसब्री से इंतजार हो रहा है। इस समय भारत टीकाकरण अभियान की तैयारी करने में लगा हुआ है। भारत में आज यानी की सोमवार से वैक्सीन का 48 घंटे का मॉक ड्रिल शुरू हो रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन (Health Minister Harsh Vardhan) ने जनवरी में वैक्सीन आने की बात काफी पहले ही बताई थी।

अभियान से जुड़ा चक्र और सरकारी अधिकारी दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान की तैयारी में लगे हुए है। वहीं तैयारियां तेजी से की जा रही है। कल से देश में कोरोना वैक्सीन के लिए ड्राई रन शुरू किया जाएगा। पंजाब, असम, आंध्र प्रदेश और गुजरात में केंद्र सरकार ड्राई रन चलाएगी। वैक्सीन लॉन्च होने की पूरी प्रक्रिया अच्छे से जांच की जाएगी। मॉक ड्रिल एक प्रक्रिया है, जिसमें टीके को छोड़कर चीजों को परखा जाएगा। इस प्रक्रिया के तहत टीके की आपूर्ति, रसीद और महत्वपूर्ण डेटा, सदस्यों की तैनाती करना साथ ही एक दूसरे के बीच दूरी बनाए रखना आदि भी शामिल है।

सरकार इस प्रक्रिया से देखना चाहती है कि जब वैक्सीन की प्रक्रिया शुरु होगी तब किन-किन चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। यह ड्रिल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों, जिला अस्पतालों और  निजी अस्पतालों में किया जाएगा। मॉक ड्रिल के नतीजों के बाद ही आगे की वैक्सीनेशन प्लान किया जाएगा। वैक्सीन की कोल्ड चेन बनाए रखने के लिए डीप फ्रीजर का इंतजाम किया गया है। स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीनेशन ड्राइव के लिए ट्रेनिंग दी जा रही है।

राज्यों में सरकार अब स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम भेजने वाली है। कोविड वैक्सीन को लेकर की जा रही इस तैयारी को प्रोजेक्ट संजीवनी नाम दिया गया है। कोविड वैक्सीन के लिए एयरपोर्ट पर ही कूलिंग चैम्बर्स बनाए गए हैं।  27 लाख वैक्सीन को स्टोर करने के इंतजाम किए गए हैं। माइनस 20 डिग्री तापमान में वैक्सीन को रखा जाएगा। दिल्ली के एयरपोर्ट पर 2.5 मिलियन वैक्सीन को स्टोर किया जा सकता है। इस समय देश में 2.76 लाख एक्टिव केस हैं. वहीं, 1.02 करोड़ मामलों में से 97.81 लाख मरीज ठीक हुए हैं। कोरोना से अब तक भारत में 1.47 लाख लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।


administrator

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *