Contact Information / सम्पर्क जानकारी

C-125,1st Floor,Sector-02 Noida,Uttar,Uttar Pradesh - 201301

Call Us / सम्पर्क करें

 

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने तालिबान को निशाने पर लेते हुए केंद्र पर हमला बोल दिया। उन्होंने जम्मू कश्मीर से बात करने के लिए केंद्र सरकार से अपील की। महबूबा ने कहा कि जम्मू कश्मीर को दोबारा विशेष राज्य का दर्जा दिया जाना चाहिए। तालिबान ने अमेरिका को भागने के लिए मजबूर किया। उन्होंने कहा कि हमारे सब्र का इम्तेहान न लो क्योंकि जिस दिन ये सब्र टूटेगा उस दिन आप भी नहीं रहेंगे, मिट जाएंगे।

महबूबा मुफ्ती ने इस दौरान कहा कि अगर केंद्र सरकार जम्मू कश्मीर में शांति बनाए रखना चाहती है तो कश्मीर में उसे दोबारा 370 लागू करना होगा। इसके साथ ही कश्मीर के मुद्दों को बातचीत के माध्यम से हल करना होगा। महबूबा ने कहा कि तालिबान ने अमेरिका को वहां से भागने के लिए मजबूर किया था लेकिन पूरी दुनिया तालिबान के बर्ताव पर नज़र बनाये हुए है। तालिबान से मेरी ये अपील है कि ऐसा कोई काम न करें जो दुनिया को उसके खिलाफ जाने के लिए मजबूर कर दे। अब तालिबान में बंदूकों का रोल बाकी नहीं रहा है और ऐसे में दुनिया तालिबान का अफगानिस्तान के नागरिकों के प्रति व्यवहार देख रही है। उन्होंने ये भी कहा कि तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने 1947 में जम्मू कश्मीर से ये वादा किया था कि यहां के लोगों की पहचान को हर तरह से सुरक्षित रखा जाएगा और इसे विशेष राज्य का दर्जा दिया जाएगा। महबूबा ने आगे कहा कि अगर स्वतंत्रता के समय भाजपा की सरकार होती तो शायद आज जम्मू कश्मीर भारत का हिस्सा न होता। यही नहीं उन्होंने भाजपा पर कश्मीर में असंतोष को खत्म करने के लिए एजेंसियों का गलत इस्तेमाल कर रही है। अगर भाजपा की भावनाएं नहीं बदलती हैं तो भारत सांप्रदायिक और धार्मिक रूप से टूटने के लिए तैयार है।

वहीं महबूबा मुफ्ती के बयानों के बाद भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रविंद्र रैना ने उनपर हमला बोल दिया। उन्होंने कहा कि भारत एक मजबूत राष्ट्र है। हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद मोदी है, जो बाइडन नहीं है। हम आतंकवादियों को खत्म कर देंगे। महबूबा मुफ्ती देशद्रोही हैं और वे देशद्रोह में मग्न हैं। भाजपा नेता ने कहा कि महबूबा ने जम्मू कश्मीर के देशभक्त लोगों का अपमान किया है क्योंकि वे कश्मीर में भी तालिबानी शासन चाहती हैं।

 

Share:

administrator

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *