Contact Information / सम्पर्क जानकारी

C-125,1st Floor,Sector-02 Noida,Uttar,Uttar Pradesh - 201301

Call Us / सम्पर्क करें

उत्तरप्रदेश में विधानसभा चुनाव होने हैं। इस बीच कोरोना भी कहर बरपा रहा है। वहीँ उत्तर प्रदेश में ओबीसी समुदाय के दिग्गज नेता स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) ने मंगलवार को योगी कैबिनेट से इस्तीफा देकर सबको चौंका दिया है। उन्होंने मंत्री पद छोड़ने के ऐलान के साथ ही बीजेपी सरकार की सार्वजनिक तौर पर आलोचना भी की है। कुछ ही देर में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्विटर पर यह भी ऐलान कर दिया कि स्वामी का ‘प्रसाद’ (Swami Prasad Maurya) अब उनकी पार्टी को मिलेगा।

स्वामी प्रसाद मौर्य ने मीडिया से की बातचीत

लेकिन बीजेपी जब डैमेज कंट्रोल मोड में आई तो पहले खुद स्वामी (Swami Prasad Maurya) और फिर उनकी बेटी ने ये साफ किया कि मौर्य अभी किसी पार्टी में शामिल नहीं हुए हैं। मीडिया से बातचीत में स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) ने कहा कि हम कहां जा रहे हैं, इसपर सस्पेंस बना रहना चाहिए। 14 जनवरी को वह घड़ी आएगी जब अंतिम धमाका होगा। जो भी निर्णय होगा वो बीजेपी सरकार के ताबूत में आखिरी कील होगा।

अखिलेश ने किया था ट्वीट

आपको बता दें कि बीते दिन अखिलेश यादव ने ट्विटर पर एक ट्वीट किया था। जिसमें उन्होंने स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) के साथ एक फोटो शेयर की और लिखा सामाजिक न्याय और समता-समानता की लड़ाई लड़ने वाले लोकप्रिय नेता श्री स्वामी प्रसाद मौर्या जी एवं उनके साथ आने वाले अन्य सभी नेताओं, कार्यकर्ताओं और समर्थकों का सपा में ससम्मान हार्दिक स्वागत एवं अभिनंदन! सामाजिक न्याय का इंक़लाब होगा ~ बाइस में बदलाव होगा।

लेकिन स्वामी प्रसाद मौर्य के इस नए बयान ने सबके होश उड़ा दिए हैं। अब देखना ये होगा की स्वामी प्रसाद मौर्य किस पार्टी का दामन थमते हैं। साथ ही 14 जनवरी को क्या खुलासे करते हैं।

ये भी पढ़ें  – BJP ऑफिस में कोरोना धमाका, नितिन गडकरी भी कोरोना पॉजिटिव


administrator

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *